इस ब्लॉग पर आने के लिए शुक्रिया, कृपया कमेण्ट्स कर मुझे मेरी गलतियां सुधारने का मौका दें

Thursday, July 14, 2011

राजासाब मुम्बई में बम ब्लास्ट हुआ है,गोल्डन चांस है,घसीट लो आरएसएस को इस मामले में।ट्रिप्पल एम फ़ेक्टर काम करेगा

एक और छोटी सी पोस्ट बहुइत बड़ा सवाल लिये हुये। राजासाब मुम्बई में बम ब्लास्ट हुआ है,गोल्डन चांस है,घसीट लो आरएसएस को इस मामले में।ट्रिप्पल एम फ़ेक्टर काम करेगा।मुस्लिम भी खुश,मीडिया भी और मैडम भी।भाड़ मे जाये जनता।मौका मत चूको राजा साब जोड़ दो इसे भगवा ब्रिगेड़ से।गोल्डन चांस है,हो सकता है मानवाधिकार के मामले में किसी टटपूंजिये देश से कोई राष्ट्रीय पुरस्कार मिल भी जाये

8 comments:

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

मोमबत्तियां लेकर जलायेंगे, कल फोटो खिचायेंगे.

Ratan Singh Shekhawat said...

सेकुलरता का सर्टिफिकेट पाने का इससे बढ़िया मौका कहाँ?

Arunesh c dave said...

भैया पोस्ट कुछ ज्यादा ही छॊटी होती जा रही है आप लिखोगे नही तो हम लोग कैसे लिखेंगे

बलबीर सिंह गुलाटी said...

Are aap manmohan singh ki sarkar ke kale karnamo ko kaise bhool gaye? Ab logon ka dhyan inse thode dino ke liye hat jayega.
Chouthe M ke roop main ise bhi jod dijiye.. Yani ab "FOUR M Factor"

जी.के. अवधिया said...

"गागर में सागर" पोस्ट!

Anil Pusadkar said...

kya karoge arunesh is vishay par agar granth bhi rach dale to kya sthiti sudhregi?jitna likhte jao gussa badhta chala jata hai,shabd niyntran kho dete hai aur kalam bhi laxman rekha tod deti hai,isse achcha hai ki na khud ka khoon jalao aur na dusron ka.kshama karna waise tumhara kehna sahi hai,is par itna kam nahi likha jana chahiye,magar maine apni sthiti spasht kar di,

KSR Murty said...

Anil Sir fentastic keep writing and expose all the big mafia (politicians) who are involved in this blast because without their support no crime are terror can be done in India. Every time whenever any critical issue or scam comes and govt.suppose to surrender themeselves at that time they always divert the Indian public and Media people by supporting this type of illegal activity. Our politicians are very clever and they know whenever they are being trapped by Media and public then they support illegal activity and they divert all the public and media to this type of hot issues. Now Media and indian Public should understand the Govt. strategy and should act accordingly

Ankit.....................the real scholar said...

बुद्धिजीवियों को मोमबतियां जलाकर सोसिअल सितेस के लिए फोटो खिचवाने का एक और अवसर मिला , तो कब है जंतर मंतर पर पिकनिक ?? इस रविवार???