Friday, December 16, 2011

हाई कोर्ट/सुप्रीम कोर्ट बडा या वकील/मंत्री?

हाई कोर्ट/सुप्रीम कोर्ट बडा या वकील/मंत्री?ये बेहद टेढा और कठीन सवाल आज उठ खडा हुआ है.जिस मामले को हाईकोर्ट ने खारिज़ नही किया,सुप्रीम कोर्ट ने खारिज़ नही किया,उसे एक वकील से मंत्री बने चिद्दू ने खारिज करने की सलाह दे डाली.इसे कहते है वकील फीस ली तो काम पूरा करके ही दम लिया.पूरी ईमानदारी से अपने मुव्वकिल को बचाने का हर संभव प्रयास किया.लोग चिढ रहे है.बेवजह हल्ला मचा रहे हैं.अब भला वकील साब मुवक्किल को नही बचायेगा तो क्या देश को बचायेगा?देखना अब अफज़ल गुरु और कसाब के केस भी चिद्दू भैया को ही मिलेंगे और जनहित मे देश के लोगों की जान लेने वाले भाईजानोम के केस भी जनहित में वापस हो जायेंगे.जय हो वकील चिद्दू भैया की.वकील हो तो ऎसा,मंत्री हो तो ऎसा.और उससे भी ज्यादा महान है कांग्रेस पार्टी,उसने तो चिद्दू भैया को बचाने के कसम खा ली है लगता है.उसका नारा भी बदल गया है,चिद्दू तुम लफडे करो हम तुम्हारे साथ है.जब तक़ कांग्रेस का राज रहेगा,चिद्दू तू अंदर नही,बाहर ही रहेगा.नियमो का,सिद्धांतो का कब्रिस्तान,फिर भी मेरा भारत महान.

6 comments:

काजल कुमार Kajal Kumar said...

अक़्ल बड़ी या मत्री...

दिगम्बर नासवा said...

Itna sab hone ke bavajood Congres aur Chindu Bhaiya dono jeet ke ayenge agli baar .....

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

किस मसले की बात कर रहे हैं आप.

Rajim wale baba said...

bilkul sahi kaha aapne.jab tak rahenge chiddu jaise shaitan tab tak rahega hamara bharat mahan

Rajim wale baba said...

jab tak rahenge chiddu jaise shaitan.desh to kahlaega hi mahan

Atul Shrivastava said...

मेरा भारत महान.....