इस ब्लॉग पर आने के लिए शुक्रिया, कृपया कमेण्ट्स कर मुझे मेरी गलतियां सुधारने का मौका दें

Saturday, June 22, 2013

मीडिया के पतन की प्राकाष्ठा देखना है तो देखिये आमीर खान की फिल्म "पीप्ली लाईव"

एक माईक्रोपोस्ट.पता नही क्यों मुझे आज आमीर खान की फिल्म "पीप्ली लाईव"बहुत याद आ रही है.इसलिये नही कि इसका मुख्य किरदार नत्था छत्तीसगढ का था,बल्कि इसलिये कि उस फिल्म में मीडिया,प्रशासन और शासन की जमकर पोल खोली गई है.न देखी हो तो देखिये जरुर ये उस फिल्म का प्रमोशन नही है बल्कि वर्तमान दौर में गिरावट का सजीव चित्रण है.

1 comment:

प्रवीण पाण्डेय said...

कोई ग़लत नहीं दिखाया है।