इस ब्लॉग पर आने के लिए शुक्रिया, कृपया कमेण्ट्स कर मुझे मेरी गलतियां सुधारने का मौका दें

Monday, August 22, 2011

भ्रष्टाचार के खिलाफ हो रहे आंदोलन का विरोध करना क्या भ्रष्टाचार का समर्थन नही है?

अगर अन्ना या उनके आंदोलन का समर्थन करना, संसदीय प्रणाली,संसद,संविधान या लोकतंत्र की अवमानना है,उसका विरोध है,तो फिर क्या भ्रष्टाचार के खिलाफ हो रहे आंदोलन का विरोध करना या उसका समर्थन नही करना या तटस्थ रहना,भ्रष्टाचार का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रुप से समर्थन करना नही है?

2 comments:

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

bilkul hai...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति।
श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ।