इस ब्लॉग पर आने के लिए शुक्रिया, कृपया कमेण्ट्स कर मुझे मेरी गलतियां सुधारने का मौका दें

Thursday, May 16, 2013

घपलो घोटालो से ध्यान भटकाने कि फिक्सिंग है ये स्पाट फिक्सिंग.

आईपीएल में स्पाट फिक्सिंग पकडाई.श्रीसंथ समेत तीन खिलाडी भी धरे गये.अब सवाल ये उठता है कि क्या?आईपीएल में स्पाट फिक्सिंग पहली बार हुई है?अगर ये शुरु से हो रही थी तो इस मामले में कार्रवाई में इतनी देरी क्यों?स्पाट फिक्सिंग में हुई कार्र्वाई सच में पूरी इमानदारी से हुई है या फिर हाल मे हो रहे घपले घोटाले घूसकांड और दुनिया भर के लफडो से जनता का ध्यान बांटने की सरकारी कोशिश है ये?वैसे क्रिकेट का बुखार सारे देश पर छाया हुआ है और इस समय स्पाट फिक्सिंग का मामला सामने लाना सारे देश के बहसबाज़ो को उस ओर मोडने में सफल भी हो गया है.टीवी पर बहस शुरु हो गई है और वो अब गली मुहल्ले नुक्कडो तक पहुंच जायेगी.इसी के साथ ही गुम हो जायेंगे दुनिया भर के घपले घोटाले.ऎसा नही है कि क्रिकेट में सट्टेबाज़ी के खिलाफ कार्र्वाई नही होनी चाहिये?बिल्कुल होनी चाहिये और ये कार्रवाई देर से हो रही है.इसके टाईमिंग के कारण डाऊट हो रहा है कि ये भी ये एक प्रकार मुद्दो से भटकाने की फिक्सिंग है.

2 comments:

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

satya ho sakta hai.

ताऊ रामपुरिया said...

इस राज में कुछ भी संभव है.

रामराम.